Connect with us

Gorakhpur

अयोध्या में श्री राम मंदिर की भूमि पूजन के उपलक्ष में लुहसी गांव में खुशी का माहौल

Published

on


पिपराइच (विकास तिवारी)।
बुधवार को पिपराइच क्षेत्र के ग्रामसभा लुहसी में पूर्व विधायक लल्लन प्रसाद त्रिपाठी व चंद्रा इनटरप्राइजेज के मालिक ही यारवेन्दु तिवारी के द्वारा राम लला हम आएंगे मंदिर वहीं बनाएंगे सपना साकार होने के उपलक्ष में करोड़ों हिंदुत्व लोगों की आस्था मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री रामचंद्र जी के मंदिर निर्माण को यादगार बनाने के लिए गांव के दुर्गा मंदिर पर दीपक प्रज्ज्वलित किया गया शाम होते ही मंदिर व गांव में दीपावली जैसा दीपक जलाए गया और सभी सम्मानित ग्रामवासियों युवा कार्यकर्ताओं बंधुओं ने अपार हर्ष के साथ प्रत्येक व्यक्ति का मुंह मीठा कराया और हर एक व्यक्ति एक दीपक जलाया इस अवसर पर मनीष त्रिपाठी रत्नेश पांडे योगेश त्रिपाठी अविनाश त्रिपाठी गोविंद त्रिपाठी अवनीश त्रिपाठी कमलेश त्रिपाठी शशांक त्रिपाठी त्रिपाठी विकास त्रिपाठी अजय सिंह वीरेन्द्र चौहान जितेंद्र चौहान प्रदीप चौहान आदि लोग मौजूद रहे

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Gorakhpur

राणा हॉस्पिटल में मरीज के मौत पर हंगामा , पहले भी अपने कारनामों से हो चुकी इस हॉस्पिटल की किरकिरी

Published

on

By

हॉस्पिटल संस्था मरीजों के देहांत के बाद भी ज़बरन रखते ICU में 24 घण्टे,

फर्जी पैसा वसूलने व लापरवाही की पहले भी आ चुकी शिकायत,

गोरखपुर(अमित कुमार)।शाहपुर इलाके के राणा हॉस्पिटल में सौरभ पांडेय पुत्र अजय पांडेय निवासी धर्मशाला बाजार की हुई मौत के बाद नाराज परिजनों ने बवाल मचा दिया। मौके पर पहुचे एसएचओ शाहपुर। मुकदमा दर्ज करने की बात पर अड़े परिजन।
मरीज को पथरी की समस्या के वजह से पेट दर्द होने से भर्ती कराया गया।
शाम छ: बजे के करीब तक आम समस्या बताते रहे। फिर कुछ समय बाद मरीज की हालत गंभीर देखते हुए।
आई सी यू मे डाल दिया गया परिजनों को बुलाकर कहा गया कि मरीज की हालत कुछ ठीक नहीं है आप लोग इसे लखनऊ ले जाइए। नौ बजे तक कोविड19 के जांच के लिए रोके रहे।कोविड की भी जांच नहीं की और करीब रात के दस बजे एम्बुलेंस बुलाकर मरीज को लखनऊ ले जाने के लिए एम्बुलेंस में रखवा दिया।
परिवार के लोग जब मरीज को देखा तो उसकी मौत हो चुकी थी डाक्टर से दुबारा देखने को कहा तो किनारा कसने लगा।
परिवार के हंगामा करने पर डाक्टर और पूरा स्टाफ हॉस्पिटल छोड़ कर फरार हो गए।

Continue Reading

Gorakhpur

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में जल्द शुरू होगा प्लाज्मा थेरेपी से कोरोना का इलाज

Published

on

By

गोरखपुर ब्यूरो (राघवेन्द्र दास)। बीआरडी मेडिकल कॉलेज में प्लाज्मा थेरेपी से कोरोना मरीजों का इलाज होगा। शासन ने बीआरडी को प्लाज्मा थेरेपी से इलाज करने का निर्देश दिया है। इसके बाद इलाज में उपयोग होने वाली एफेरेसिस मशीन की खरीद का प्रस्ताव कॉलेज प्रशासन ने शासन को भेज दिया है। अगस्त माह के अंतिम सप्ताह में प्लाज्मा थेरेपी पर काम शुरू होने की उम्मीद है।
प्रदेश में सबसे पहले लखनऊ के पीजीआई में प्लाज्मा थेरेपी की शुरुआत भी हुई थी। इसके बाद केजीएमयू में भी यह सुविधा शुरू हुई। अब बीआरडी ने भी प्लाज्मा थेरेपी में उपयोग होने वाली मशीन एफेरेसिस का प्रस्ताव शासन को भेजा है। उम्मीद है कि मशीन भी बीआरडी को जल्द मिल जाएगी। इसके बाद इस पर काम भी शुरू हो जाएगा।
गंभीर संक्रमण से उबरे विजेता देंगे प्लाज्मा
प्लाज्मा उन्हीं मरीजों का लिया जाएगा जो कोरोना से जंग जीत चुके हैं। उनके अंदर एंटीबॉडी विकसित हो गई होगी। बीआरडी प्राचार्य डॉ. गणेश कुमार ने बताया कि कोविड-19 से ठीक हो चुके मरीजों के अंदर एंटीबॉडी अब विकसित हो गई होगी। ऐसे मरीजों से प्लाज्मा डोनेट करने की अपील की जाएगी। डोनेट प्लाज्मा को गंभीर संक्रमित मरीजों को चढ़ाया जाएगा।

प्राचार्य डॉ. गणेश कुमार ने बताया कि प्लाज्मा थेरेपी दिए जाने के लिए तीमारदार की अनुमति जरूरी होगी। तीमारदार के इच्छा के बाद ही उसके मरीज का इलाज प्लाज्मा थेरेपी से डॉक्टर कर सकेंगे। बताया कि शुगर, गुर्दा, हृदय रोग व कैंसर पीड़ित कोरोना संक्रमितों को प्लाज्मा थेरेपी दी जा सकेगी।

प्लाज्मा थेरेपी का उपयोग गंभीर मरीजों पर किया जाएगा। कोरोना के ऐसे मरीज जिनके जान को खतरा हो। संक्रमित मरीज के रेस्परेटरी रेट प्रति मिनट 30 से ज्यादा हो। ब्लड में ऑक्सीजन की मात्रा 93 फीसदी से कम हो। एक्सरे में फेफड़े में धब्बे 48 घंटे में 50 फीसदी बढ़े हों। रेस्परेटरी फेल्योर, सेप्टिक शॉक, मल्टी ऑर्गन फेल्योर मरीजों को प्लाज्मा चढ़ाया जाएगा।
शासन को प्लाज्मा के लिए एफेरेसिस मशीन का प्रस्ताव भेजा गया है। उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही मशीन बीआरडी को मिल जाएगी। इसके बाद प्लाज्मा थेरेपी पर बीआरडी की टीम काम करना शुरू कर देगी।
डॉ. गणेश कुमार, प्राचार्य, बीआरडी मेडिकल कॉलेज

Continue Reading

Gorakhpur

गुलरिहा थाना क्षेत्र में डबल मर्डर से मचा हड़कम्प,प्रेमी युगल का फावड़े से काटकर हुई हत्या

Published

on

By

गुलरिहा क्षेत्र के ठाकुरपुर नंबर एक की है घटना, घटना स्थल से खाली जेवरात के डब्बे मिले।

गोरखपुर(विनय तिवारी/मो0नजीब)।गोरखपुर जनपद में गुलरिहा थाना क्षेत्र में डबल मर्डर से सनसनी फैल गया गुलरिहा थाना क्षेत्र के ठाकुरपुर नंबर एक के गड़हिया टोला के पूरब चिलुवाताल के पास एक वर्ष से मकान बनाकर रह रहे प्रेमी प्रेमिका की मंगलवार की रात फावड़े से मार कर हत्या कर दी गयी जिससे क्षेत्र में हड़कम्प मचा हुआ है बरहाल ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस महकमे में हड़कम्प मच गया है सूचना मिलते ही घटना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ सुनील कुमार गुप्ता व एसपी नाथ अरविंद पाण्डेय सीओ चौरी चौरा रचना मिश्रा फॉरेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल में जुट गए।

प्रेमी युगल थे पहले से शादीशुदा,एक साल से मन्दिर में शादी कर रह रहे थे साथ में

प्राप्त जानकारी के अनुसार क्षेत्र के ग्राम ठाकुरपुर नंबर एक के शंकरपुर टोला निवासी रामरक्षा गौड़ की बेटी रीमा (32) की शादी दस वर्ष पूर्व महराजगंज जनपद के बेलवाकाजी गांव के रविन्द्र गौड़ के साथ हुआ था वही साथ में ही बिदाई भी हुआ था। शादी के 15 दिन बाद पति की बाईक से जाते समय सड़क दुर्घटना में मौत हो गयी थी उसके कुछ दिन बाद वह मायके चली आई थी कुछ दिन रहने के बाद पिता रामरक्षा ने उसकी दूसरी शादी गुलरिहा क्षेत्र के जंगल डुमरी नंबर दो के टोला पोखरियहवा निवासी राजेन्द्र गौंड के साथ कर दिया था शादी के कुछ दिन बाद राजेन्द्र शराब पीकर पत्नी के साथ मारपीट करने लगा जिससे तंग आकर रीमा ने पूरी बात माता पिता को बताई जिसपर पिता के हस्तक्षेप से मामला पंचायत तक पहुंच गया।

उक्त पंचायत में मृतक गुलरिहा क्षेत्र के ग्राम जैनपुर के टोला मुहम्मद बरवा निवासी मिठाई गुप्ता का दूसरे नबर का पुत्र अनरजीत (40) भी मौजूद था। वही अनरजीत व रीमा में प्रेम हो गया उसके बाद रीमा अपने पति का घर छोड़ कर प्रेमी अनरजीत से बासस्थान मन्दिर में शादी करके उसके साथ मायके आकर रहने लगी बीते कुछ दिन बाद अनरजीत गांव के पूरब स्थित चिलुवाताल के समीप शंकरपुर जाने वाले सड़क के किनारे जमीन खरीद कर चारो तरफ बाउन्ड्री चलाकर अन्दर एक कमरा सीमेन्ट शीट डालकर रीमा के साथ एक वर्ष से रहने लगा था।

मृतका रीमा के कोई सन्तान नही थे। जहां मंगलवार की रात दोनों को अज्ञात बदमाशों ने फावड़े से मार कर हत्या कर दी आपको बताते चले कि मृतका रीमा का शव तख्ते पर औंधे मुह के बल तथा मृतक अनरजीत का शव तख्ते के बगल में नीचे पड़ा था। दोनों को सिर पर वार किया गया है। पुलिस ने बताया कि मृतक अनरजीत के सिर पर चोट के चार निशान थे घटना स्थल से हत्या में प्रयुक्त फावड़ा तथा कुछ जेवर के खाली डिब्बे मिला है। तथा चार जूठे थाली भी मिला है जिससे प्रतीत हो रहा है कि घटना से पूर्व चार लोग भोजन किए हैं ।

अब पुलिस को इस बात का जबाब ढूढना पड़ेगा कि लूटपाट के लिए हत्या हुई है की पुलिस को गुमराह करने के लिए  जेवरात के डब्बे को फेका गया है।पुलिस को डाकस्क्वायड के जांच मे घटना स्थल से दौ सौ मीटर की दूरी पर चिलुवाताल के किनारे चार प्लास्टिक का गिलास तथा कुछ खाली पालीथिन मिला है।

अनरजीत अपनी विवाहिता पत्नी का भी करता था भरण पोषण

गुलरिहा क्षेत्र के जैनपुर के टोला मुहम्मद बरवा निवासी अनरजीत पुत्र मिठाईलाल की विवाहिता पत्नी संगीता गुप्ता ने पहले पति का रीमा से सम्बंध का विरोध किया परन्तु जब उसने उसका तथा बच्चों का भी भरण पोषण करने लगा तो वह शांत हो गयी।मृतक अनरजीत के दो पुत्र सूरज (14 वर्ष) तथा आकाश (11 वर्ष) हैं।मृतक अनरजीत भटहट स्थित एक गैस एजेन्सी पर गैस वितरण का कार्य करता था।

घटना की सूचना पर एसएसपी डाक्टर सुनील गुप्ता,एसपी नार्थ अरविन्द कुमार पाण्डेय,सीओ चौरीचौरा रचना मिश्रा,क्राइम इन्स्पेक्टर रामभवन यादव,प्रभारी निरीक्षक गुलरिहा रवि कुमार राय,प्रभारी निरीक्षक शाहपुर,प्रभारी निरीक्षक गोरखनाथ के साथ ही डाग स्क्वायड तथा फोरेंसिक टीम के लोग पहुंचे थे।
एसपी नार्थ अरविन्द कुमार पाण्डेय ने बताया कि प्रेमी युगल की हत्या फावड़े से दोनो के सिर हमला कर किया गया है।पुलिस तथा क्राईम ब्रांच की टीम हर विन्दु को ध्यान मे रखकर जांच कर रही है हत्या की विस्तृत जानकारी पोस्ट मार्टम रिपोर्ट आने के बाद होगा उन्होने कहा कि घटना का खुलासा जल्द हो जायेगा ।

Continue Reading
Advertisement

Trending

Copyright © 2019 nirvantimes.com. Powered by IP DIGITAL MARKETING SERVICES