Connect with us

LUCKNOW

मोदी सरकार श्रम कानूनों को खत्म करने पर आमदा

Published

on

क्या आपको पता है कि पिछले साल 02 सितम्बर 2016 को देश के 11 सेंट्रल ट्रेड यूनियनों के नेतृत्व में 18 करोड़ कर्मचारी मिलकर देशव्यापी हड़ताल पर क्यों गए थे? आपको पता है कि 10 सेंट्रल ट्रेड यूनियन मिलकर राष्ट्रीय सम्मलेन आने वाले 9,10 व 11 नवम्बर 2017 को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में तीन दिन का देशव्यापी पड़ाव का आयोजन क्यों कर रहे है? क्या आप जानते है कि और उनको क्या मांगे है ? क्यों इतना बड़ा कदम उठाना पड़ा देश के सभी श्रमिक संगठनों को?
दोस्तों आइये, आपको पूरा विस्तार से बताता हूँ
दरअसल मोदी सरकार श्रम कानूनों में बदलाव करने जा रही है. जिसमें नया श्रम कानून तीन पुराने श्रम कानूनों, इंडस्टिरियल एक्ट 1947, ट्रेड यूनियन एक्ट 1926 और इंडिस्टियल एक्ट 1946 की जगह लेगा.
ये पहली सहिता है, तीन और बनना है,
अब सवाल है कि यदि ये सारे कानून बन गये तो क्या होगा???
*(1)* कर्मचारियों को नौकरी से निकालना आसान हो जाएगा. *(2)* यूनियन बनाना मुश्किल हो जाएगा, न्यूनतम 10 फीसदी या 100 कर्मचारी की जरुरत होगी. जहाँ पहले 7 कर्मचारी मिलकर यूनियन बना लेते थे वहां अब 30 कर्मचारियों की जरुरत होगी. *(3)* एक माह में ओवर टाइम की सीमा 50 से बढ़ाकर 100 घंटे करना गलत है क्योकि इसका भुगतान डबल रेट में ना होकर अब सिंगल रेट में होगा. जब कानून में ही 100 घंटे का प्रवधान हो जाएगा तो मजदूरों को 8 घंटे के जगह 12 घंटे की नियमित ड्यूटी हो जाएगी. *(4)* फेक्टरी के मालिकों को अब ज्यादा अधिकार मिल जाएंगे कोर्ट जाने का अधिकार खत्म हो जाएगा. *(5)* मौजूदा 44 श्रम कानूनों को ख़त्म करके 4 कर दिया जाएगा. *(6)* यूनियन में बाहरी लोगो पर रोक लगा दी जाएगी. *(7)* अप्रेंटिश् एक्ट में एक तरफ़ा बदलाव कर 2 साल से बढ़ाकर 10 साल कर दिया जाएगा. *(8)*ट्रेनिंग के नाम पर शोषण होगा, *(9)* परमानेन्ट नौकरी खत्म हो जाएगी *(10)* सब काम ठेकेदारी से होगा, *(11)* कुछ भी विरोध किया नौकरी से निकाल दिया जाएगा, चुपचाप गुलामो की तरह काम करना होगा, ये मोदी सरकार का असली एजेंडा है ।
*साथियों ये इतना खतरनाक कानून है यदि इसका विरोध नहीं किया गया और ये बन गया तो बहुत् ही बुरे हाल हो जायेंगे. मजदूरों*, *कर्मचारियों ये सब इसलिए किया जा रहा है क्योंकि देश में विदेशी निवेश होगा और विदेशी कंपनिया कहती हैं कि भारत के 44 श्रम कानून बहुत ही जटिल और मजदूर हितैषी है. पहले आप इनको खत्म करो फिर हम भारत आएंगे. इसलिए मोदी सरकार ये कदम उठा रही है और एक बार फिर भारत को गुलाम बनाने की पहल की गई है*. इसलिए देश के 10 सेंट्रल ट्रेड यूनियन ने मिलकर ऐलान कर दिया है की आने वाले 9,10 व 11 नवम्बर 2017 को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में तीन दिन का देशव्यापी पड़ाव का आयोजन कर पुरजोर विरोध किया जायेगा कि इस कानून को वापस लिया जाए. हम इस देश को फिर से गुलाम नहीं होने देगें. ये कसम खाएं और तैयार हो जाएं हल्ला बोलने के लिए ।
मोदी सरकार पूर्वजों द्वारा बनवाये श्रम कानूनों को खत्म करने पर आमदा, क्यों

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

LUCKNOW

आखिरकार घर सुल्तानपुर फाउंडेशन के प्रयासों ने बेगमपुरा ट्रेन का डायवर्जन कैंसल कराया, सुल्तानपुर वासियो में ख़ुशी की लहर

Published

on

By

लखनऊ। बेगमपुरा ट्रेन जो कि सुल्तानपुर से होकर गुजरती रही है जिसका किसी कारण वश डायवर्जन कर दिया गया था जिसके बाद घर सुल्तानपुर फाउंडेशन ने लड़ाई छेड़ी और मेनका गांधी को पत्र ईमेल किया साथ ही लंभुआ विधायक देवमणि द्विवेदी का भी प्रयास सराहनीय रहा कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा भी ज्ञापन दिया गया, इससे पहले सांसद प्रतिनिधि ने भी कहा ट्रेन सुल्तानपुर होकर ही जाएगी, घर सुल्तानपुर फाउंडेशन द्वारा ट्विटर पर

#सुलतानपुर_चाहे_अपनी_बेगमपुरा
#WeWantOurBegumpura द्वारा प्रयास किया गया जो कि सुल्तानपुर वासियो द्वारा खूब रीट्वीट भी किया गया जिसको देखते हुए मेनका गाँधी ने संज्ञान में लिया और रेलवे कर्मचारियों से बात-चीत कर डायवर्जन को रुकवाया और मेल के माध्यम से घर सुल्तानपुर फाउंडेशन को जवाब दिया कि ट्रेन डायवर्जन कैंसिल हो गया है।

Continue Reading

LUCKNOW

मुलायम सिंह यादव की तबीयत बिगड़ी, लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती

Published

on

By

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव की तबियात अचानक बिगड़ गई है। उन्हें लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. फिलहाल डॉक्टरों की टीम मुलायम सिंह यादव के स्वास्थ्य की निगानी कर रही है। मेदांता के डॉक्टरों के मुताबिक, मुलायम सिंह की हालत फिलहाल ठीक है। मालूम हो कि मुलायम सिंह को तकरीबन एक महीने पहले पहले भी मेदांता में भर्ती कराया गया था। उस वक्त उन्हें पेट से संबंधित कुछ समस्या थी।

मेदांता के डायरेक्टर राकेश कपूर ने बताया है कि सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव गुरुवार रात से अस्पताल में एडमिट किया गया है।
उनका पेट से संबंधित मामले में इलाज चल रहा है। चिकित्सकों के अनुसार उनकी तबियत फिलहाल ठीक है। पेट में कुछ समस्या होने पर उन्हें मेदांता अस्पताल लाया गया है। राकेश कपूर के मुताबिक, मुलायम को यूरिनल इंफेक्शन की भी शिकायत है। उनका कोरोना टेस्ट कराया गया है जिसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है।

हाल ही में समाजवादी पार्टी के संस्थापक और वर्तमान संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने अपना जन्मदिन मनाया था। इस दौरान कार्यकर्ताओं के बीच मुलायम सिंह ने 81 किलो का लड्डू केक काटा था। इस मौके पर सपा अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मंच पर मौजूद थे। मुलायम सिंह के जन्मदिवस पर उनके सैफई स्थित घर से लेकर लखनऊ तक कई कार्यक्रम आयोजित किए गए थे।

इस मौके पर मुलायम सिंह ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा था कि आप सब कई वर्षों से मेरा जन्मदिन मना रहे हैं। अब जरूरी है कि कार्यकर्ताओं का जन्मदिन मनाया जाए। उन्होंने कहा था कि आप अपने क्षेत्र के कार्यकर्ता का जन्मदिन मनाएं और मुझे बुलाएं। उन्होंने कहा था कि देश में कई समस्याएं हैं। आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है, इसलिए हमेशा ही अन्याय के खिलाफ लड़ें। गरीब और किसानों के लिए संघर्ष करें। यही समाजवाद है। मुलायम ने बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं की मौजूदगी पर उनका आभार जताया था।

Continue Reading

LUCKNOW

मुख्यमंत्री के संदेश से,प्रदेश अध्यक्ष भिखारी प्रजापति के निर्देश पर विश्व हिंदू महासंघ पूरे प्रदेश में करेगा छह दिवसीय कार्यक्रम

Published

on

By

लखनऊ(विनोद पाठक)।प्रदेश अध्यक्ष भिखारी प्रजापति जी के आवाहन पर ५ अगस्त को अयोध्या में होने वाले श्री राम जन्मभूमि शिला पूजन महोत्सव के शुभ अवसर पर विश्व हिंदू महासंघ छह दिवसीय कार्यक्रम आयोजित करेगा। जिसके प्रथम दिन १ अगस्त को सुंदरकांड का पाठ होगा,२ अगस्त को आल्हा सम्राट फौजदार सिंह के गीतों के साथ महफिल सजेगी,३ अगस्त श्रावणी पूर्णिमा के दिन भगवान शिव की पूजा,अर्चना,रुद्राभिषेक एवं आरती के कार्यक्रम होंगे,४ अगस्त को महासंघ के सभी पदाधिकारी एवं सदस्य सोशल साइट पर राम मंदिर निर्माण के लिए बधाइयां देंगे एवं सायंकाल मंदिर आंदोलन में प्राण न्योछावर करने वाले साधु संतों एवं कारसेवकों को श्रद्धा सुमन अर्पित किया जाएगा। 4 अगस्त को प्रातः भगवा ध्वज का वितरण होगा। दोपहर 12 से 12:30 बजे तक अयोध्या की ओर मुंह करके अपने आप को मानसिक रूप से शिला पूजन महोत्सव में उपस्थित होने का एहसास करते हुए शुभकामना प्रेषित करेंगे। 6 अगस्त को सभी जिला इकाइयों व प्रकोष्ठों द्वारा अपने-अपने लेटर पैड पर श्री राम मंदिर निर्माण हेतु किए जा रहे प्रयास पर प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी व मुख्यमंत्री माननीय योगी आदित्यनाथ जी महाराज को बधाई व धन्यवाद पत्र जिलाधिकारी के माध्यम से प्रेषित करेंगे।।
उपरोक्त समस्त कार्यक्रम पूरे प्रदेश में समस्त जिला कमेटियों, शहर कमेटियों,मातृशक्ति एवं सभी प्रकोष्ठों के सम्मानित पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उत्साह के साथ आयोजित करेंगे,,उपरोक्त जानकारी जिला अध्यक्ष डॉ कुँवर दिनकर प्रताप सिंह,जिला महासचिव सचिन पांडे,,मीडिया प्रभारी रमेश माहेश्वरी द्वारा प्रेषित की जा रही है।।

Continue Reading
Advertisement

Trending

Copyright © 2019 nirvantimes.com. Powered by IP DIGITAL MARKETING SERVICES